The Alchemist by Paolo Coelho, book review in Hindi

समय समय पर कुछ ऐसी किताबें आती हैं जो केवल पाठकों की सोच को ही प्रभावित नहीं करती बल्कि उनके जीवन को भी बदल डालती हैं। ऐसी ही एक किताब है- अल्केमिस्ट। अल्केमिस्ट की रचना ब्राजील के सुप्रसिद्ध लेखक पाओलो कोएलो ने सन् 1988 में की थी। इस किताब की लगभग 2 करोड़ प्रतियाँ अब तक बिक चुकी हैं। मूल रुप से यह किताब पुर्तगाली भाषा में लिखी गयी थी। बाद में इसका अनुवाद अन्य भाषाओं में हुआ और अब तक लगभग 56 भाषाओं में इसका अनुवाद हो चुका है। हिन्दी में इसका अनुवाद कमलेश्वर जी ने किया है।

अल्केमिस्ट के लेखक पाओलो कोएलो हैं जिन्होंने अन्य बहुत सी चर्चित किताबें लिखी हैं जिनमें जाहिर, इलेवन मिनट्स, ब्रीडा, द स्पाय, एडल्टरी आदि हैं। पाओलो कोएलो के विचारों से ही हम जान सकते हैं कि वे किसी दूसरी दुनिया की खबर देते हैं। यूँ तो अधिकतर हर कहानी काल्पनिक होती है परन्तु कई कहानियाँ काल्पनिक होकर भी हमारे वास्तविक जीवन के कष्टों व हमारी अनंत क्षमताओं से जुडी हुई होती हैं क्योंकि उनमें कई समानतायें होती हैं। यह कहानी हमें हमारे दिल की आवाज सुनने, जीवन में बिखरे हुए शकुनों को पढ़ने और हमें हमारे सपने को पूरा करने के लिये लगन से लगे रहने की कला सिखाती है।

इसे भी पढ़ें – Paolo coelho thoughts in Alchemist in Hindi

अल्केमिस्ट का सटीक हिन्दी अनुवाद होता है- कीमियागर यानी साधारण धातुओं को सोने में बदलने की कला को जानने वाला।

अल्केमिस्ट कहानी है एक ऐसे लड़के सेंटियागो की जो पूरी दुनिया घूमने का सपना लेकर अपना घर छोड़कर एक गड़रिया (चरवाहा) बन जाता है। उसके पास कई भेडे़ं होती हैं। वह स्पेन के अंडलूसिया शहर में अपने घर से अपने गड़रिये जीवन की शुरूआत करता है और कई गावों-शहरों में अपनी भेड़ों के लिये चरागाहों की तलाश में रहता है। अपने गड़रिये जीवन में उसे यह बात पता चलती है कि उसकी नियति कुछ और है तथा उसके नसीब में एक खजाना लिखा हुआ है जो उसे मिस्र के पिरामिडों के पास मिलेगा। उसे अपने गड़रिये जीवन में कई बार खजाने का सपना आता है इसलिये वह भी खजाने की तलाश में मिस्र की यात्रा शुरू करता है। अफ्रीका के टेंजियर पहुँचकर वह एक चोर के द्वारा ठगा जाता है। वह चोर उसका सारा धन लेकर फरार हो जाता है। इतना सब होने के बाबजूद वह खुद को संभालता है और मिस्र के रेगिस्तानों को पार करता है। रेगिस्तान की यात्रा में उसे एक लड़की से प्यार हो जाता है और वहीं उसकी कीमियागर से एक रोमांचक मुलाकात होती है जो लड़के की उसका खजाना खोजने में सहायता करता है। अंत में पिरामिडों को देखने की उसकी इच्छा पूरी होती है और खजाना भी उसे प्राप्त होता है किन्तु मिस्र के पिरामिडों में नहीं बल्कि उसके देश स्पेन में, जहाँ से उसने अपने गड़रिये जीवन की शुरुआत की थी।

दोस्तों वैसे तो मैं आपको इस किताब का शुरु का कुछ अंश PDF FORMET में नीचे दे रहा हूँ जिससे आपकी रूचि इसको पढने में बढे़ और आप इसे जहाँ से सुविधा मालूम पढे वहाँ से खरीद सकें।

Click below to buy Alchemist in Hindi(अल्केमिस्ट हिन्दी में खरीदें नीचे दिये लिंक से)

Buy Alchemist from Amazon

Download Alchemist book sample in Hindi PDF

One comment

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s