21 Most Inspiring thoughts of Paolo coelho in Alchemist

अल्केमिस्ट में उपलब्ध पाओलो कोएलो के विचार

1. सपना साकार होने की संभावना ही जीवन को रंगीन बनाती है।

2. हमारे जीवन में एक ऐसा समय आता है जब हमारे साथ जो कुछ भी घटित हो रहा होता है, उस पर हमारा कोई नियंत्रण नहीं होता और तब हमारे जीवन की बागडोर हमारी तकदीर के हाथों में चली जाती है। यह दुनिया का सबसे बडा झूठ है।

3. जब तुम वास्तव में कोई चीज पाना चाहते हो तब सारा ब्रह्मांड उसकी प्राप्ति में मदद के लिये तुम्हारे लिये षडयंत्र रचती है।

4. लोग बहुत ही जल्दी अपने जीवन में यह सोच लेते हैं कि उनके होने की वजह क्या है ? शायद इसलिये वे उतनी ही जल्दी हाथ खडे कर देते हैं।

5. अगर तुम उस वस्तु को देने का वादा करते हो जो तुम्हारे पास अभी है ही नहीं तो तुम उसे पाने के लिये प्रयत्न करने की इच्छा को भी छोड सकते हो।

6. ईश्वर ने हर व्यक्ति के लिये एक पथ बनाया है, हमें बस उन चिह्मों को पहचानना और समझना होगा जो उसने हमारे लिये छोडे हैं।

7. शकुनों को पहचानना सीखो और उन पर चलो।

8. तुम्हें हमेशा यह मालूम होना चाहिये कि तुम चाहते क्या हो।

9. जिंदगी की हर बात शकुन ही तो है, एक विश्वव्यापी भाषा है जिसे हर कोई समझता है मगर भूल चुका है।

10. तुम्हें समझ लेना चाहिये कि प्यार कभी किसी को अपनी नियति की तलाश करने से नहीं रोकता! अगर वह व्यक्ति अपनी तलाश छोड देता है तो इसका मतलब है कि उसका प्यार सच्चा प्यार नहीं था…ऐसा प्यार जो हमेशा सर्वव्यापी भाषा बोलता है।

11. जो तुम पीछे छोड आये हो उसके बारे में सोचना व्यर्थ है।

12. जीवन ही जीवन को आकर्षित करता है।

13. अगर कोई वस्तु विशुद्ध तत्वों से बनी होती है तो वह कभी खराब नहीं होती। उनके पास तुम कभी लौट सकते हो, मगर जो चीज महज पल भर के लिये चमकती है टूटते हुए सितारे की तरह, उसके लिये तुम लौट भी आओ तो भी मिलेगा कुछ भी नहीं।

14. तुम अपने दिल से कभी भी बच नहीं सकते इसलिये बेहतर है कि तुम उसकी बात सुनो। इस तरह कभी भी तुम्हें उसके अनायास आघात यानी विश्वासघात की आशंका नहीं रहेगी।

15. अपने दिल से कहो कि दुख भोगने का डर दुख भोगने से कहीं ज्यादा भीषण है।

16. खोज का हर क्षण एक साक्षात्कार होता है ईश्वर से और अनादि अनंत से।

17. तुम्हारी आँखें बता देती हैं कि तुम्हारी आत्मा कितनी शक्तिशाली है।

18. हम जो कुछ भी देखते हैं वह ब्रह्मांड में उसका विकसित रूप है।

19. अगर तुम अपनी नियति को खोजते हुए बीच में ही मर जाओ तब भी तुम उन लाखों-करोडों लोगों से कई गुना बेहतर होगे, जो नहीं जानते थे कि उनकी नियति में क्या लिखा था।

20. हमारे मुँह के भीतर जो जाता है वह बुरा नहीं है बल्कि मुँह से जो बाहर आता है वह बुरा है।

21. किसी से प्यार किया जाता है तो बस इसलिये कि उससे प्यार है प्यार करने के लिये किसी कारण की जरूरत नहीं होती।

इसे भी पढ़े- Alchemist book review in Hindi

One comment

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s